समाचार फ्लैश
बांग्लादेश में बड़े निवेश के पीछे चीन की क्या है नीयत? खिलौनों के बाद अब चीन से आने वाली किस चीज़ पर लगाम लगाएगा भारत पेले ने फैन्स के लिए जारी किया संदेश, कहा- मज़बूत हूं, वर्ल्ड कप देख रहा हूं बेडरूम फोटोज शेयर करने पर तारक मेहता की रीटा रिपोर्टर भड़की एक्ट्रेस बोलीं - मैं कैसी पत्नी, कैसी मां... दिल्ली की मिनी सरकार चुनने के लिए वोटिंग जारी, केजरीवाल ने की ये अपील संधवा द्वारा पंजाब राज्य महिला गतका चैंपियनशिप की शुरुआत फौजा सिंह सरारी द्वारा बाग़बानी विभाग के समूह ब्लॉक अफसरों के संपर्क नंबरों की सूची प्रकाशित करने के निर्देश, जिससे किसान ज़रूरत पडऩे पर ले सकें सलाह पंजाब पुलिस की ए. जी. टी. एफ. द्वारा लारेंस बिशनोयी गैंग का मैंबर ढकोली से गिरफ़्तार; 20 पिस्तौलें, इनोवा कार बरामद विजीलैंस ब्यूरो द्वारा 1,15,000 रुपए की रिश्वत लेने वाले सेवामुक्त एसएमओ के विरुद्ध भ्रष्टाचार का मामला दर्ज उर्फी जावेद ने एक बार फिर शेयर की टॉपलेस वीडियो , यूजर्स जमकर कर रहे हैं कमेंट

मतदाताओं को गुमराह किया जा रहा', हिमाचल के ऊना में प्रियंका गांधी का बीजेपी पर वार

news-details

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) वाड्रा हिमाचल चुनाव (Himachal Election 2022) को मद्देनजर रखते हुए प्रदेश में काफी आक्रामक चुनाव प्रचार कर रही हैं. उन्होंने हिमाचल चुनाव में सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन बहाल करने समेत कई वादे सोमवार को किए.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जनता को यह समझना होगा कि ‘दवा बदलने से बीमारी दूर नहीं होने’ की बात उनको गुमराह करने के लिए की जा रही है. उन्होंने यहां परिवर्तन प्रतिज्ञा रैली में आरोप लगाया कि हिमाचल से बीजेपी के कई बड़े नेता हुए लेकिन उन्होंने अपनी तरक्की और जनता की तरक्की पर कोई ध्यान नहीं दिया.
प्रधानमंत्री पर बोला हमला
प्रधानमंत्री ने कहा था कि बार-बार दवा बदलना बीमारी के इलाज में मददगार नहीं है. आप को एक ही दवा के साथ लंबे समय तक बने रहना है, ताकि इसके असर को देख सकें. हर हफ्ते अलग-अलग दवा लेने से किसी का भला नहीं होगा. हिमाचल प्रदेश ने यही गलती की.प्रियंका गांधी ने सोमवार को यहां चुनावी सभा में प्रधानमंत्री का नाम लिए बगैर कहा था कि बीजेपी नेता कहते हैं कि दवा बदलने से बीमारी दूर नहीं होती. क्या हिमाचल प्रदेश और वहां की जनता बीमार है? देखिए किस नजरिये से आप (जनता) को देखा जा रहा है? आपको बताया जा रहा है कि आप बीमार हैं. समझ लीजिए कि आप लोगों को गुमराह किया जा रहा है. उन्होंने भारतीय जनता पार्टी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उनकी डबल इंजन की सरकार में सिर्फ कुछ उद्योगपतियों के इंजन में तेल भरा जा रहा है.

भविष्य तय करेगा हिमाचल का चुनाव
प्रियंका गांधी ने कहा कि ये चुनाव आपका भविष्य तय करने वाला है. ओपीएस की मांग आपकी मांग है जिसे बीजेपी ने पूरा नहीं किया. अगर कांग्रेस शासित राज्यों में पुरानी पेंशन मिल सकती है तो दूसरे प्रदेशों में क्यों नहीं मिल सकती? इसे समझिए.

छत्तीसगढ़ का दिया उदाहरण
छत्तीसगढ़ का उदाहरण देते हुए प्रियंका ने कहा कि छत्तीसगढ़ में बेरोजगारी दर सबसे कम हो गई है. हमने 3 साल में 5 लाख नौकरियां दी हैं. राजस्थान में हमने 1.3 लाख नौकरियां दी हैं. यहां सरकारी नौकरियों के 63 हजार पद खाली हैं जिस वजह से प्रदेश का युवा चिंतित है. युवा शिक्षित हैं, मेहनती हैं और वे नौकरी चाहते हैं लेकिन उनको बदले में क्या दिया जा रहा है.

प्रियंका ने वादा किया कि हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर मंत्रिमंडल की पहली बैठक में ही एक लाख रोजगार देने पर निर्णय होगा. प्रियंका ने पुरानी पेंशन योजना और रोजगार के मुद्दों का उल्लेख करते हुए कहा कि राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकारों ने इन वादों को पूरा किया और मौका मिलने पर हिमाचल प्रदेश में इसे किया जाएगा.उन्होंने आरोप लगाया कि हिमाचल प्रदेश में बीजेपी सरकार में युवाओं के बीच नशा फैलाया जा रहा है, लेकिन रोजगार नहीं दिया जा रहा है.

सेना की भर्ती पर दिया जा रहा ठेका
प्रियंका गांधी ने अग्निवीर योजना का हवाला देते हुए दावा किया कि ये लोग सेना की भर्ती को भी ठेके पर दे रहे हैं. हिमाचल प्रदेश में पहले चार हजार लोग भर्ती होते थे. लेकिन इससे सिर्फ 400-500 लोग भर्ती हो सकेंगे और इनमें से 75 प्रतिशत लोग वापस जाएंगे. उन्होंने आरोप लगाया कि आज हिमाचल प्रदेश का बजट घाटे में है. लेकिन हर जगह घोटाले ही घोटाले हैं. शिक्षक भर्ती में घोटाला हुआ और कई अन्य भर्तियों में घोटाला है.प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने कहा कि कांग्रेस (Congress) की सरकार में पांच साल में पांच लाख रोजगार देने का पूरा प्रयास किया जाएगा. उन्होंने कहा कि हमारा सिद्धांत सेवा और समर्पण का है तो बीजेपी का सिद्धांत सिर्फ सत्ता में बने रहने का है. आप लोग अपने लिए वोट दीजिए किसी की बातों से गुमराह नहीं होना है.