समाचार फ्लैश
बांग्लादेश में बड़े निवेश के पीछे चीन की क्या है नीयत? खिलौनों के बाद अब चीन से आने वाली किस चीज़ पर लगाम लगाएगा भारत पेले ने फैन्स के लिए जारी किया संदेश, कहा- मज़बूत हूं, वर्ल्ड कप देख रहा हूं बेडरूम फोटोज शेयर करने पर तारक मेहता की रीटा रिपोर्टर भड़की एक्ट्रेस बोलीं - मैं कैसी पत्नी, कैसी मां... दिल्ली की मिनी सरकार चुनने के लिए वोटिंग जारी, केजरीवाल ने की ये अपील संधवा द्वारा पंजाब राज्य महिला गतका चैंपियनशिप की शुरुआत फौजा सिंह सरारी द्वारा बाग़बानी विभाग के समूह ब्लॉक अफसरों के संपर्क नंबरों की सूची प्रकाशित करने के निर्देश, जिससे किसान ज़रूरत पडऩे पर ले सकें सलाह पंजाब पुलिस की ए. जी. टी. एफ. द्वारा लारेंस बिशनोयी गैंग का मैंबर ढकोली से गिरफ़्तार; 20 पिस्तौलें, इनोवा कार बरामद विजीलैंस ब्यूरो द्वारा 1,15,000 रुपए की रिश्वत लेने वाले सेवामुक्त एसएमओ के विरुद्ध भ्रष्टाचार का मामला दर्ज उर्फी जावेद ने एक बार फिर शेयर की टॉपलेस वीडियो , यूजर्स जमकर कर रहे हैं कमेंट

विजीलैंस द्वारा कानूनगो 10,000 रुपए रिश्वत लेता रंगे हाथों काबू

news-details

 Bolda Punjab
चंडीगढ़, 24 नवंबरः

पंजाब विजीलैंस ब्यूरो ने भ्रष्टाचार के विरुद्ध शुरु की मुहिम के दौरान गुरूवार को सर्कल ठठी सोहल, तरन तारन जिले में तैनात राजस्व कानूगो ओम प्रकाश को 10,000 रुपए की रिश्वत लेते हुये रंगे हाथों काबू कर लिया।  
 
इस सम्बन्धी जानकारी देते हुये विजीलैंस ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि उक्त कानूनगो को भलविन्दर सिंह निवासी गाँव झबाल, ज़िला तरन तारन की शिकायत पर गिरफ़्तार किया है।  
 
विवरण देते हुये उन्होंने बताया कि उक्त शिकायतकर्ता ने विजीलैंस ब्यूरो के पास पहुँच करके दोष लगाया कि उक्त राजस्व अधिकारी उसके रिश्तेदार की हदबंदी रिपोर्ट देने के एवज में उससे 25,000 रुपए रिश्वत की माँग कर रहा है और सौदा 10,000 रुपए में तय हुआ है।  
 
उसकी शिकायत की जांच करने के बाद विजीलैंस की एक टीम ने जाल बिछाया और दोषी को 10,000 रुपए की रिश्वत लेते हुये दो सरकारी गवाहों की हाज़िरी में रंगे हाथों काबू कर लिया।  
 
उन्होंने बताया कि उक्त दोषी के खि़लाफ़ भ्रष्टाचार रोकथाम कानून के अंतर्गत विजीलैंस ब्यूरो के थाना अमृतसर में मुकदमा दर्ज करके आगे कार्यवाही जारी है।